NCERT Solutions for Class 10 Hindi Kshitij Chapter 12 लखनवी अंदाज़

Class 10 Hindi Kshitij Chapter 12 लखनवी अंदाज़

NCERT Solutions for Class 10 Hindi Kshitij Chapter 12 लखनवी अंदाज़, (हिंदी)परीक्षा में राज्य बोर्ड और सीबीएसई स्कूलों में से कुछ में एनसीईआरटी की किताबों के माध्यम से छात्रों को पढ़ाया जाता है के रूप में अध्याय एक अंत शामिल है, वहां एक अभ्यास के लिए छात्रों को मूल्यांकन के लिए तैयार सहायता प्रदान की है छात्रों को उन अभ्यासों को बहुत अच्छी तरह से स्पष्ट करने की जरूरत है क्योंकि बहुत पिछले उन लोगों से पूछा भीतर सवाल

कई बार, छात्रों के अभ्यास के भीतर अटक जाते है और सवालों के सभी स्पष्ट करने में सक्षम नहीं हैं छात्रों को सभी प्रश्नों को हल करने और अपनी पढ़ाई को संदेह के साथ बनाए रखने में सहायता करने के लिए, हमने सभी कक्षाओं के लिए छात्रों के लिए स्टेप एनसीईआरटी सॉल्यूशंस द्वारा कदम प्रदान किए हैं। इन उत्तरों को इसी तरह छात्रों की सहायता और सवालों का सही जवाब देने के तरीके के रूप में ठीक से सचित्र समाधानों की सहायता से बेहतर अंक स्कोरिंग में छात्रों की मदद मिलेगी

NCERT Solutions for Class 10 Hindi Kshitij Chapter 12 लखनवी अंदाज़

Class 10 Hindi Kshitij Chapter 12 लखनवी अंदाज़

पाठ्य-पुस्तक के प्रश्न-अभ्यास

 

प्रश्न 1. लेखक को नवाब साहब के किन हाव – भावों से महसूस हुआ कि वे उनसे बातचीत करने के लिए तनिक भी उत्सुक नहीं हैं ?

उत्तर- ( 1 ) लेखक ने जैसे ही ट्रेन के सेकण्ड क्लास डिब्बे में प्रवेश किया वहाँ उसने एक बर्थ पर पालथी मारकर बैठे हुए नवाब साहब को देखा । लेखक को देखते ही उनकी आँखों में असंतोष का भाव आ गया ।

( 2 ) लेखक को डिब्बे में आया देखकर नवाब साहब ने कोई उत्साह नहीं दिखाया जिससे यह महसूस हुआ कि नवाब बातचीत करने के लिए उत्सुक नहीं हैं ।

( 3 ) नवाब साहब बिना बातचीत किए कुछ देर तक गाड़ी की खिड़की से बाहर देखते रहे । नवाब साहब के इन हाव – भावों से लेखक ने महसूस किया कि वे उनसे बातचीत करने के लिए तनिक भी उत्सुक नहीं है ।

प्रश्न 2 . नवाब साहब ने बहुत ही यत्न से खीरा काटा , नमक – मिर्च बुरका , अंतत : सूँघकर ही खिड़की से बाहर फेंक दिया । उन्होंने ऐसा क्यों किया होगा ? उनका ऐसा करना उनके कैसे स्वभाव को इंगित करता है ?

उत्तर – नवाब साहब ने ऐसा इसलिए किया होगा जिससे लेखक को उनकी खानदानी तहजीब , नफासत और रईसी का पता चल सके । नवाब साहब का वह व्यवहार कार्य उनके आडम्बरपूर्ण दिखावा करने के स्वभाव को इंगित करता है । इससे नवाब साहब की बनावटी जीवन शैली का आभास मिलता है ।

प्रश्न 3. बिना विचार , घटना और पात्रों के भी क्या कहानी लिखी जा सकती है ? यशपाल के इस विचार से आप कहाँ तक सहमत हैं ?

उत्तर – बिना विचार , घटना और पात्रों के भी कहानी लिखी जा सकती है , पर वह कहानी इतनी प्रभावशाली नहीं होगी जितनी घटनाओं और पात्रों पर आधारित विचारपूर्ण कहानी होती है । उस कहानी में कल्पना तत्व की ही प्रधानता रहेगी , उसका यथार्थ से कोई सम्बन्ध नहीं रहेगा । कहानी का पाठक वैसा ही महसूस करेगा जैसा खीरे को खाए बिना उसे सूँघकर ही छोड़ दिया जाए ।

प्रश्न 4 . आप इस निबन्ध को और क्या नाम देना चाहेंगे ?

उत्तर- ख्याली भोजन अथवा हवाई भोज । रचना और अभिव्यक्ति

प्रश्न 5. ( क ) नवाब साहब द्वारा खीरा खाने की तैयारी करने का एक चित्र प्रस्तुत किया गया है । इस पूरी प्रक्रिया को अपने शब्दों में व्यक्त कीजिए ।

( ख ) किन – किन चीजों का रसास्वादन करने के लिए आप किस प्रकार की तैयारी करते हैं ?

उत्तर– ( क ) ( 1 ) नवाब साहब ने सबसे पहले अपना तौलिया बिछाकर दोनों खीरों को धोकर पॉछ दिया ।

( 2 ) उन्होंने अपनी जेब से चाकू निकालकर खीरों के सिरों को काटकर उन्हें गोदकर झाग निकाल दिया ।

( 3 ) तत्पश्चात् नवाब साहब ने खीरों को सावधानीपूर्वक छीलकर उनकी फाँक करके तौलिए पर सजा दिया तथा फाँकों पर जीरा मिश्रित नमक और लाल मिर्च का चूर्ण लगा दिया ।

( 4 ) खीरे की तैयारी की पूरी प्रक्रिया में खीरे के रसास्वादन की कल्पना करते हुए प्रसन्नता का अनुभव करते रहे ।

उत्तर- ( ख ) आम को खाने के लिए हम आम को पानी से धोकर साफ करेंगे फिर कुछ समय के लिए उन्हें पानी में भिगो कर रखेंगे । उसके बाद चाकू से उनकी फाँक काटेंगे और तब खायेंगे । लस्सी पीने के लिए दहीं में चीनी मिलाकर मधानी से भली प्रकार गयेंगे । फिर उसमें कुटी बर्फ डालेंगे । इसके बाद पिसी इलायची , कतरे हुए सूखे मेवे से सजाकर पियेंगे ।

प्रश्न 6 . खीरे के सम्बन्ध में नवाब साहब के व्यवहार को उनकी सनक कहा जा सकता है । आपने नवाबों की और भी सनकों और शौकों के बारे में पढ़ा – सुना होगा किसी एक के बारे में लिखिए ।

उत्तर – नवाब अपनी सनकों और शीकों के बारे में जाने जाते हैं । जैसे एक नवाब को फोटोग्राफी की सनक सवार थी । एक बार वे दूसरे शहर में घूमने के लिए गए । वहाँ रेलवे स्टेशन पर उतरे और फोटोग्राफी करने लगे । उन्हें इस तरह फोटोग्राफी में लगे देख एक चौर उनका सामान उठाकर भागने लगा । जब किसी व्यक्ति ने उन्हें चेताया तब वे फोटोग्राफी में मशगूल थे , अतः उन्होंने ध्यान नहीं दिया । जब ये कार्य से मुक्त हुए तब तक उनका सारा समान जा चुका था ।

प्रश्न 7 . क्या सनक का कोई सकारात्मक रूप हो सकता है ? यदि हाँ , तो ऐसी सनकों का उल्लेख कीजिए ।

उत्तर – सनक कई प्रकार की होती है । कुछ सकारात्मक कुछ नकारात्मक और कुछ हास्यास्पद यदि किसी को बार – बार हाथ धोने पर से निकलते समय दो – तीन बार सभी तालों की जाँच करने , शिक्षा के प्रति अत्यधिक जागरूक रहने की आदत है तो ये सकारात्मक परिणाम ही देंगी । कठिन से कठिन कार्य को सनकी मनुष्य महजता से पूरा कर लेते हैं । जैसे – जीतन माँझी की सनक के कारण ही पहाड़ को काटकर रास्ता बनाने का कार्य सम्भव हो सका ।

भाषा अध्ययन

प्रश्न 8. निम्नलिखित वाक्यों में से क्रिया पद छाँटकर क्रिया – भेद भी लिखिए-

( क ) एक सफेदपोश सज्जन बहुत सुविधा से पालथी मारे बैठे थे ।

( ख ) नवाब साहब ने संगति के लिए उत्साह नहीं दिखाया ।

( ग ) खाली बैठे , कल्पना करते रहने की पुरानी आदत है ।

( घ ) अकेले सफर का वक्त काटने के लिए ही खीरे खरीदे होंगे ।

( ङ ) दोनों खीरों के सिरे काटे और उन्हें गोदकर झाग निकाला ।

( च ) नवाब साहब ने सतृष्ण आँखों से नमक – मिर्च के संयोग से चमकती खीरे की फाँकों की ओर देखा ।

( छ ) नवाब साहब खीरे की तैयारी और इस्तेमाल से थककर लेट गए ।

( ज ) जेब से चाकू निकाला ।

उत्तर – क्रियापद किया के भेद

( क ) बैठे थे अकर्मक क्रिया

( ख ) दिखाया सकर्मक क्रिया

( ग ) है अकर्मक क्रिया

( घ ) खरीदे होंगे सकर्मक क्रिया

( ङ ) निकाला सकर्मक क्रिया

( च ) देखा सकर्मक क्रिया

( छ ) लेट गए अकर्मक क्रिया

( ज ) निकाला अकर्मक क्रिया

पाठेतर सक्रियता

प्रश्न 1. किबला शौक फरमाएँ ‘ , ‘ आदाब अर्ज …… शौक फरमाएँगे ‘ जैसे कथन शिष्टाचार से जुड़े हैं । अपनी मातृभाषा के शिष्टाचार सूचक कथनों की एक सूची तैयार कीजिए ।

उत्तर – छात्र स्वयं करें ।

प्रश्न 2. खीरामेदे पर बोझ डाल देता है ‘ क्या वास्तव में खीरा अपच करता है ? किसी भी खाद्य पदार्थ का पच – अपच होना कई कारणों पर निर्भर करता है । बड़ों से बातचीत कर कारणों का पता लगाइए ।

उत्तर – छात्र स्वयं करें ।

प्रश्न 3. खाद्य पदार्थों के सम्बन्ध में बहुत सी मान्यताएँ हैं जो आपके क्षेत्र में प्रचलित होंगी , उनके बारे में चर्चा कीजिए ।

उत्तर– छात्र स्वयं करें ।

प्रश्न 4 . पतनशील सामंती वर्ग का चित्रण प्रेमचन्द ने अपनी प्रसिद्ध कहानी ‘ शतरंज के खिलाड़ी ‘ में किया था और फिर बाद में सत्यजीत राय ने इस नाम से एक फिल्म भी बनाई थी । यह कहानी ढूँढकर पढ़िए और सम्भव हो तो फिल्म भी देखिए ।

उत्तर- छात्र स्वयं करें ।

 

एनसीईआरटी सॉल्यूशंस के लाभ

एनसीईआरटी के कक्षा 10 समाधान में अत्यंत महत्वपूर्ण बिंदु हैं, और प्रत्येक अध्याय के लिए, प्रत्येक अवधारणा को सरल बनाया गया है ताकि उत्कृष्ट परीक्षा परिणाम प्राप्त करने की संभावनाओं को याद रखना और बढ़ाना आसान हो सके। परीक्षा की तैयारी के संदर्भ यहां कुछ सुझाव दिए गए हैं कि ये समाधान आपको परीक्षा की तैयारी में कैसे मदद कर सकते हैं ।

  1. यह छात्रों को प्रत्येक अध्याय में कई समस्याओं को हल करने में मदद करता है और उन्हें अपनी अवधारणाओं को और अधिक सार्थक बनाने के लिए प्रोत्साहित करता है।
  2. कक्षा 10 समाधानों के लिए एनसीईआरटी समाधान आपको अपने ज्ञान को अपडेट करने और अपनी अवधारणाओं को परिष्कृत करने के लिए प्रोत्साहित करते हैं ताकि आप परीक्षा में अच्छे परिणाम प्राप्त कर सकें।
  3. ये समाधान सबसे अच्छी परीक्षा सामग्री हैं, जिससे आप अपने सप्ताह और अपनी ताकत के बारे में अधिक जानने की अनुमति देते हैं। परीक्षा में अच्छे परिणाम पाने के लिए जरूरी है कि आप अपनी कमजोरियों को दूर करें।
  4. परीक्षा में ज्यादातर प्रश्न एनसीईआरटी की पाठ्यपुस्तकों के समान तरीके से तैयार किए जाते हैं । इसलिए, छात्रों को विषय को बेहतर ढंग से समझने के लिए प्रत्येक अध्याय में समाधानों की समीक्षा करनी चाहिए।
  5. यह निशुल्क है।

कक्षा 10 परीक्षा की तैयारी के लिए टिप्स और रणनीतियां

  1. अपने पाठ्यक्रम और पाठ्यक्रम की योजना बनाएं और संशोधन के लिए समय बनाएं
  2. परीक्षा की तैयारी के लिए हर बार अपनी अवधारणाओं को स्पष्ट करने के लिए cbsestudyguru वेबसाइट पर उपलब्ध एनसीईआरटी समाधान का उल्लेख करें ।
  3. परीक्षा को सफलतापूर्वक पास करने के लिए सीखना शुरू करने के लिए cbsestudyguru लर्निंग ऐप का उपयोग करें। हल और अनसुलझे कार्यों सहित पूर्ण शिक्षण सामग्री प्रदान करें।
  4. यह अपने शिक्षकों या एलेक्स (एक अल अध्ययन बॉट) के साथ परीक्षा से पहले अपने सभी संदेहों को स्पष्ट करने के लिए महत्वपूर्ण है ।
  5. जब आप किसी चैप्टर को पढ़ते या पढ़ते हैं तो एल्गोरिदम फॉर्मूले, प्रमेय आदि लिखें और परीक्षा से पहले उनकी जल्दी समीक्षा करें ।
  6. अपनी अवधारणाओं को मजबूत बनाने के लिए पर्याप्त संख्या में प्रश्न पत्रों का अभ्यास करें।
  7. आराम और उचित भोजन लें।  ज्यादा तनाव न करें।

कक्षा 10 के लिए सीबीएसस्टूडुगुरु एनसीईआरटी सॉल्यूशंस का विकल्प क्यों चुनते हैं?

  • cbsestudyguru अपनी उंगलियों पर सभी विषयों के लिए एनसीईआरटी समाधान प्रदान करते हैं ।
  • ये समाधान विषय विशेषज्ञों द्वारा डिजाइन किए गए हैं और एनसीईआरटी की हर पाठ्यपुस्तक प्रश्नों के समाधान प्रदान करते हैं।
  • cbsestudyguru विशेष रूप से सीखने को इंटरैक्टिव, प्रभावी और सभी वर्गों के लिए बनाने पर केंद्रित है।
  • हम कक्षा 10 और अन्य सभी कक्षाओं के लिए मुफ्त एनसीईआरटी समाधान प्रदान करते हैं।

Leave a Comment